लाइव ट्रेडिंग रणनीतियाँ

क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं

क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं
सैन फ्रांसिस्को, 19 नवंबर (आईएएनएस)। सैम बैंकमैन-फ्राइड, अब दिवालिया क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज एफटीएक्स के सीईओ ने पिछले साल एक बड़ी धनराशि जुटाने के बाद 300 मिलियन डॉलर की कमाई की। द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, संकटग्रस्त क्रिप्टो एक्सचेंज ने अक्टूबर 2021 में 420 मिलियन डॉलर की कमाई की। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

न्यू यॉर्क में बिटकॉइन खनन फार्मों पर प्रतिबंध लगाया गया है जो 100% नवीकरणीय ऊर्जा का उपयोग नहीं करते हैं

न्यूयॉर्क, संयुक्त राज्य अमेरिका के गवर्नर कैथी होचुल ने कल, 23 ​​नवंबर को एक कानून पर हस्ताक्षर किए, जो राज्य में बिटकॉइन खनन फार्मों के संचालन पर प्रतिबंध लगाता है यदि वे 100% नवीकरणीय ऊर्जा का उपयोग नहीं करते हैं।

कानून एबी 7389-सी पिछले जून से राज्यपाल के हस्ताक्षर के लागू होने की प्रतीक्षा कर रहा था, राज्य सीनेट की स्वीकृति प्राप्त करने के बाद। सीएनबीसी प्रेस एजेंसी के अनुसार, गवर्नर ने टिप्पणी की कि यह कानून “देश में अपनी तरह का पहला कानून है।” इस माध्यम से किए गए फॉलो-अप के अनुसार, इस साल मई से इस कानून के मसौदे पर चर्चा चल रही है।

विनियम व्यक्त करते हैं कि, अगले दो वर्षों में, क्रिप्टोक्यूरेंसी खनन के क्षेत्र में कंपनियां राज्य में काम क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं नहीं कर पाएंगी, न ही अपने ऑपरेटिंग परमिट को नवीनीकृत करेंगी, अगर यह दिखाया जाता है कि वे कार्बन जलाने से ऊर्जा के साथ काम करते हैं।

राष्ट्रपति ने स्पष्ट किया कि राज्य के कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के उद्देश्य से कानून को मंजूरी दी गई है। करने का इरादा है वर्ष 2050 तक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन को 85% तक कम करना।

इस खंड की प्रभावी तिथि से शुरू होने वाली और ऐसी तिथि के दो साल बाद समाप्त होने वाली अवधि के लिए, विभाग, लोक सेवा विभाग के परामर्श से, क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं एक नया आवेदन स्वीकृत नहीं करेगा या इस अनुच्छेद या अनुच्छेद सत्तर के अनुसार एक नया परमिट जारी नहीं करेगा। इस अध्याय में, एक बिजली उत्पादन सुविधा के लिए जो कार्बन-आधारित ईंधन का उपयोग करता है और जो पूरी तरह या आंशिक रूप से, क्रिप्टोकुरेंसी खनन परिचालनों द्वारा उपयोग की जाने वाली विद्युत शक्ति प्रदान करता है जो ब्लॉकचैन लेनदेन को मान्य करने के लिए प्रमाणीकरण विधियों का उपयोग करता है।

न्यूयॉर्क स्टेट लॉ एबी 7389-सी।

यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि न्यूयॉर्क के कार्बन फुटप्रिंट को कम करने के संदर्भ में यह पहला कानून नहीं है जिसे होचुल ने पारित किया है। जुलाई में, राज्यपाल ने जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई के संबंध में कई विधेयकों पर हस्ताक्षर किए।

नए कानून की शिकायत

हालांकि यह एक कानून है जो केवल उन खनन फार्मों पर लागू होता है जो गैर-नवीकरणीय ऊर्जा का उपयोग करते हैं, बिटकॉइन पारिस्थितिकी तंत्र के भीतर कुछ विशेषज्ञ, सीएनबीसी द्वारा उद्धृत, मानते हैं कि देश में खनन गतिविधियों को प्रभावित कर सकता है। पूरे नेटवर्क में लगभग 38% के साथ अमेरिका दुनिया में सबसे अधिक बिटकॉइन हैश दर वाला देश है।

चैंबर ऑफ डिजिटल कॉमर्स (अंग्रेजी में इसके संक्षिप्त नाम के लिए सीडीसी), एक स्वायत्त और गैर-सरकारी संस्था जो क्रिप्टोकरेंसी पर अधिकारों को देखती है, ने इस नए कानून की अस्वीकृति के बारे में एक बयान प्रकाशित किया, जबकि ‘खनन [de criptomonedas] हाशिए क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं पर डाल दिया गया है” उन्होंने यहां तक ​​सवाल उठाया कि यह कानून “देश में खतरनाक मिसाल” कायम कर सकता है।

सीडीसी से पेरियान बोरिंग ने टिप्पणी की कि यह कानून राज्य की खनन शक्ति को कमजोर कर सकता है, कंपनियों को टेक्सास जैसे देश के अन्य अक्षांशों में स्थानांतरित करने के लिए मजबूर कर सकता है। CriptoNoticias की रिपोर्ट के अनुसार, वह राज्य जिसके पास क्रिप्टोकरेंसी के साथ अधिक अनुकूल कानून है।

Binance राजनेताओं के लिए एक दान समिति बनाता है, क्या यह FTX के नक्शेकदम पर चलेगी?

सीनेटरों की एक जोड़ी के रूप में अमेरिकी न्याय विभाग (डीओजे) को एफटीएक्स की “धोखाधड़ी रणनीति” के रूप में एक आपराधिक जांच शुरू करने के लिए कहते हैं, बिनेंस एक्सचेंज की अमेरिकी शाखा अपनी खुद की राजनीतिक कार्रवाई समिति (पीएसी) बना रही है। पीएसी संयुक्त राज्य अमेरिका में 1944 से […]

अमेरिका के नाइट क्लब में गोलीबारी में 5 की मौत, 25 घायल

ब

डेनवर। अमेरिकी राज्य कोलोराडो में एक समलैंगिक नाइट क्लब के भीतर एक बंदूकधारी ने गोलीबारी की। इससे कम से कम पांच लोगों की मौत हो गई और 25 अन्य घायल हो गए। घटना शनिवार देर रात कोलोराडो स्प्रिंग्स शहर के क्लब क्यू में हुई, जो राज्य की राजधानी डेनवर से करीब एक घंटे की दूरी पर स्थित है। यह जानकारी कोलोराडो स्प्रिंग्स पुलिस विभाग ने दी। पुलिस ने कहा कि सूचना मिलने पर पुलिसकर्मी आधी रात को मौके पर पहुंचे और आरोपी 22 वर्षीय एंडरसन ली एल्ड्रिच को हिरासत में ले लिया गया।

कोलोराडो स्प्रिंग्स के पुलिस प्रमुख एड्रियन वास्केज ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि एल्ड्रिच ने राइफल के साथ क्लब में प्रवेश करते ही गोलीबारी शुरू कर दी।

प्रारंभिक साक्ष्य संकेत मिलता है कि संदिग्ध ने क्लब क्यू में प्रवेश किया और तुरंत अंदर के लोगों पर गोली चलानी शुरू कर दी।

पुलिस ने कहा, क्लब के अंदर दो लोगों ने उसे रोकने की कोशिश की। इससे अन्य कई लोगों की जान बच गई। हम उनका धन्यवाद करते हैं।

घटनास्थल से दो आग्नेयास्त्र बरामद हुए हैं और माना जा रहा है कि हमलावर ने लंबी राइफल का इस्तेमाल किया था।

बीबीसी ने बताया कि क्लब उस समय एक डांस पार्टी की मेजबानी कर रहा था। ट्रांसजेंडर डे ऑफ रिमेंबरेंस मनाने के लिए रविवार शाम को एक प्रदर्शन कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बनाई गई थी।

इस घटना पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए राष्ट्रपति जो बाइडेन ने रविवार को कहा कि अमेरिका में एक और समुदाय बंदूक की हिंसा से बिखर गया है।

बंदूक हिंसा का हमारे देश में एलजीबीटीक्यू समुदायों पर विनाशकारी प्रभाव पड़ना जारी है और हिंसा के खतरे बढ़ रहे हैं।

ऐसे स्थानों को कभी भी आतंक और हिंसा के स्थानों में नहीं बदलना चाहिए हम नफरत को बर्दाश्त नहीं कर सकते और हमें नहीं करना चाहिए।

बाइडेन ने इस प्रकार की हिंसा की निंदा करते हुए कहा कि इसे रोकने के लिए हथियारों पर प्रतिबंध लगाने के प्रयासों का आग्रह किया।

कोलोराडो स्प्रिंग्स के मेयर जॉन सुथर्स ने एक बयान में इस घटना को एक त्रासदी बताया।

कोलोराडो के गवर्नर जारेड पोलिस, जो समलैंगिक हैं, ने उन बहादुर व्यक्तियों की प्रशंसा की, जिन्होंने बंदूकधारी को रोका, जिससे कई अन्य लोगों की जान बच गई।

उन्होंने एक फेसबुक पोस्ट में लिखा, कोलोराडो एलजीटीबीक्यू समुदाय और इस त्रासदी से प्रभावित सभी लोगों के साथ खड़ा है।

गौरतलब है कि 2016 में फ्लोरिडा के ऑरलैंडो में पल्स गे क्लब में हुई गोलीबारी में 49 लोग मारे गए थे और 50 से अधिक घायल हो गए थे।

एक स्वंयसेवी संगठन ने गन वायलेंस आर्काइव द्वारा जारी नवीनतम आंकड़ों के अनुसार बताया कि अमेरिका में बंदूक हिंसा से अब तक लगभग 40 हजार लोगों की जान चली गई है।

भारत ने सभी देशों से आतंकवाद और इसके लिए धन मुहैया कराने की समस्‍या से प्रभावी रूप से निपटने का आह्वान किया

गृह मंत्री अमित शाह ने सभी देशों का आह्वान किया है कि वे अपने भू-राजनैतिक हितों से ऊपर उठकर आतंकवाद और आतंकियों को धन आपूर्ति रोकने के लिए कारगर उपाय करें। उन्‍होंने कहा कि ऐसे देशों के खिलाफ कड़े आर्थिक प्रतिबंध लगाए जाने चाहिए जो आतंकवाद का समर्थन करने को अपनी राष्‍ट्र नीति के रूप में इस्‍तेमाल कर रहे हैं। आज नई दिल्‍ली में आतंकियों को धन मुहैया कराने पर रोक लगाने संबंधी तीसरे अंतर्राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन के समापन सत्र को संबोधित करते हुए श्री शाह ने कहा कि कुछ देश आतंकियों को निरंतर वित्‍तीय साधन मुहैया करा रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद की कोई अंतर्राष्‍ट्रीय सीमा नहीं है और सभी देशों को इस मुद्दे पर राजनीति से ऊपर उठकर सहयोग करना चाहिए। उन्‍होंने सभी देशों से कहा कि वे आतंकवाद की चुनौती से प्रभावी तरीके से निपटने के लिए पारदर्शी ढंग से काम करें। उन्‍होंने कहा कि दुनिया के देशों को आतंकवाद क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं और आतंकियों को धन के मुद्दे पर एक समान परिभाषा विकसित करने की आवश्‍यकता है।

श्री शाह ने कहा कि आतंकवाद लोकतंत्र, मानवाधिकारों, आर्थिक प्रगति और विश्‍व शांति का सबसे बड़ा शत्रु है। उन्‍होंने कहा कि इस संकट से निपटने के लिए सभी भौगोलिक क्षेत्रों में आतंकवाद के खिलाफ युद्ध छेडने की आवश्‍यकता है। उन्‍होंने कहा कि आतंकवाद और मादक पदार्थों की तस्‍करी, क्रिप्‍टो करेंसी और हवाला जैसे सुनियोजित अपराधों के बीच बढ़ते सम्‍पर्कों को देखते हुए आतंकियों को धन की आपूर्ति की आशंका कई गुना बढ़ गई है।

दो दिन के सम्‍मेलन में 70 से अधिक देशों और करीब साढे चार सौ प्रतिनिधियों ने हिस्‍सा लिया। इनमें मंत्री, बहुराष्‍ट्रीय संगठनों के प्रमुख और वित्‍तीय कार्रवाई बलों के प्रमुख शामिल थे।
======================Courtesy=================
भारत ने सभी देशों से आतंकवाद और इसके लिए धन मुहैया कराने की समस्‍या से प्रभावी रूप से निपटने का आह्वान किया
amitshah

क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं

बड़ी फंडिंग जुटाने के बाद एफटीएक्स सीईओ ने 300 मिलियन डॉलर कमाए

सैन फ्रांसिस्को, 19 नवंबर (आईएएनएस)। सैम बैंकमैन-फ्राइड, अब दिवालिया क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज एफटीएक्स के सीईओ ने पिछले साल एक बड़ी धनराशि जुटाने के बाद 300 मिलियन डॉलर की कमाई की। द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, संकटग्रस्त क्रिप्टो एक्सचेंज ने अक्टूबर 2021 में 420 मिलियन डॉलर की कमाई की। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

बड़ी फंडिंग जुटाने के बाद एफटीएक्स सीईओ ने 300 मिलियन डॉलर कमाए

सैन फ्रांसिस्को, 19 नवंबर (आईएएनएस)। सैम बैंकमैन-फ्राइड, अब दिवालिया क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज एफटीएक्स के सीईओ ने पिछले साल एक बड़ी धनराशि जुटाने के बाद 300 मिलियन डॉलर की कमाई की। द वॉल स्ट्रीट जर्नल के अनुसार, संकटग्रस्त क्रिप्टो एक्सचेंज ने अक्टूबर 2021 में 420 मिलियन डॉलर की कमाई की। मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई।

रिपोर्ट में एफटीएक्स वित्तीय रिकॉर्ड और स्रोतों का हवाला देते हुए उल्लेख किया गया, लगभग तीन-चौथाई पैसा, 300 मिलियन डॉलर, एफटीएक्स के क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं संस्थापक सैम बैंकमैन-फ्राइड के बदले चला गया, जिन्होंने कंपनी में अपनी कुछ निजी हिस्सेदारी बेच दी।

रिपोर्ट में कहा गया है कि बैंकमैन-फ्राइड ने स्पष्ट रूप से एफटीएक्स में अपनी कुछ हिस्सेदारी बेच दी थी, लेकिन इसका मतलब यह था कि उन्हें बहुत पैसा मिला था, जो निवेशक शायद सीधे कंपनी में जाना चाहते थे।

इस बीच, एफटीएक्स के संबंध में अमेरिका में एक नई अदालत की फाइलिंग ने एक क्रिप्टो साम्राज्य कॉरपोरेट नियंत्रण की पूर्ण विफलता का खुलासा किया, जो बड़े पैमाने पर कुप्रबंधित और संभवत: धोखाधड़ी थी।

फाइलिंग के अनुसार, कंपनी की कभी भी बोर्ड मीटिंग नहीं हुई और ग्राहकों द्वारा जमा की गई क्रिप्टोकरंसी को बैलेंस शीट पर दर्ज नहीं किया गया।

फाइलिंग के अनुसार कॉरपोरेट फंड का इस्तेमाल निजी इस्तेमाल के लिए अचल संपत्ति खरीदने के लिए किया गया था और कर्मचारियों और अधिकारियों ने कंपनी के फंड से खरीदे गए घरों पर अपना नाम रखा।

डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट से प्रतिबंध हटा, पोल के बाद एलन मस्क ने किया ऐलान

डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट से प्रतिबंध हटा, पोल के बाद एलन मस्क ने किया ऐलान

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के ट्विटर अकाउंट से प्रतिबंध हटा दिया गया है। कंपनी के मालिक क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं एलन मस्क ने एक पोल कराने के बाद उनके अकाउंट को रिस्टोर करने का फैसला लिया। पोल में ट्विटर के 23.7 करोड़ दैनिक यूजर्स में से कुल 1.5 करोड़ यूजर्स ने वोट डाला। इनमें से 51.8 प्रतिशत यूजर्स ने ट्रंप के अकाउंट से प्रतिबंध हटाने का समर्थन किया, वहीं 48.2 प्रतिशत इसके विरोध में रहे।

पिछले साल निलंबित किया गया था ट्रंप का अकाउंट

ट्विटर ने पिछले साल 8 जनवरी को ट्रंप के अकाउंट को हमेशा के लिए निलंबित किया था। उनके खिलाफ ये कार्रवाई 6 जनवरी के संसद हमले के बाद की गई थी, जिसमें उनके उकसावे में आकर उनके हजारों समर्थकों ने अमेरिकी संसद पर धावा बोल दिया क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं था। ट्विटर ने उनके अकाउंट पर प्रतिबंध लगाते हुए कहा था कि ट्रंप के ट्वीट्स के जरिए हिंसा फैलाने का खतरा है। अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ने भी ऐसी ही कार्रवाई की थी।

ट्रंप कर चुके हैं ट्विटर पर वापस न आने का ऐलान

बता दें कि एलन मस्क अभिव्यक्ति की पूर्ण स्वतंत्रता पर विश्वास रखते हैं, इसी कारण उनके ट्विटर खरीदने के बाद से ही सबकी नजर इस बात पर थी कि वह ट्रंप के अकाउंट से प्रतिबंध हटाते हैं या नहीं। हालांकि ट्रंप साफ कर चुके हैं कि वह ट्विटर पर वापस नहीं आएंगे। वह अपना खुद का सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भी लॉन्च कर चुके हैं, जिसका नाम ट्रुथ सोशल है और क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं वह इसी के जरिए अपने समर्थकों से जुड़े हुए हैं।

2024 अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उतरेंगे ट्रंप, ट्विटर से हो सकता है फायदा

ट्रंप के ट्विटर अकाउंट से प्रतिबंध ऐसे समय पर हटाया गया है जब उन्होने हाल ही में 2024 अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में उतरने का ऐलान किया है। 2016-2020 के बीच राष्ट्रपति कार्यकाल के दौरान अपने समर्थकों और दुनिया से जुड़ने के लिए ट्विटर उनका सबसे पसंदीदा क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं माध्यम था और इस पर उनके 8.8 करोड़ से अधिक फॉलोवर्स थे। ऐसे में देखना दिलचस्प होगा कि वह ट्विटर पर वापस न आने के अपने ऐलान पर कायम रहते हैं या नहीं।

मस्क ने कल ही जारी की थी नई कंटेट नीति, भड़काऊ क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं ट्वीट्स पर होगी कार्रवाई

बता दें कि अक्टूबर में ट्विटर को खरीदने के बाद से ही एलन मस्क इसमें बड़े बदलाव कर रहे हैं। इसी दिशा में उन्होंने कल नई कंटेट मोडरेशन नीति जारी की थी जिसमें उन्होंने कहा था कि ट्विटर यूजर्स को यूजर्स को अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता होगी, लेकिन रीच (अन्य यूजर्स तक पहुंच) की स्वतंत्रता नहीं। इसका मतलब अगर कोई भड़काऊ ट्वीट करेगा तो डिबूस्ट क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं करके उसकी रीच को कम कर दिया जाएगा और ट्वीट को डिमोनेटाइज भी कर दिया जाएगा।

न्यूजबाइट्स प्लस

कई महीनों तक चली ना-नुकर के बाद पिछले महीेने अमेरिकी अरबपति एलन मस्क ने ट्विटर खरीदने का सौदा पूरा किया था। उन्होंने ट्विटर के एक शेयर की कीमत 54.20 डॉलर (लगभग 4,410 रुपये) लगाते हुए 44 अरब डॉलर में इसे खरीदने का ऑफर दिया था। उन्होंने कहा था कि क्रिप्टो करेंसी पर प्रतिबंध नहीं वो पैसों के लिए ट्विटर नहीं खरीद रहे हैं, बल्कि वो यह सौदा इसलिए कर रहे हैं ताकि मानवता की मदद की जा सके।

रेटिंग: 4.92
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 403
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *